Followers

Copyright

Copyright © 2019 "मंथन"(https://shubhrvastravita.blogspot.in/) .All rights reserved.

बुधवार, 15 अगस्त 2018

" स्वन्तत्रता दिवस"

आओ सब मिल कर आज ,स्वन्तत्रता दिवस मनायें ।

शहीदों को याद करें ,
मान से शीश झुकायें ।।
फहरायें तिरंगा शान से ,
गर्व से जन गण मन गायें ।।

आओ सब मिल कर आज ,स्वन्तत्रता दिवस मनायें ।

सीखें समानता बन्धुता का पाठ ,
राष्ट्र का मान बढ़ायें ।
त्यागें राग द्वेष का भाव ,
कुटुम्ब खुशहाल बनायें ।।

आओ सब मिल कर आज ,स्वन्तत्रता दिवस मनायें ।

व्यक्तिगत को भूल कर ,
समष्टिगत को जीवन सार बनायें ।
करें सब की इच्छा का आदर ,
सामान्य इच्छा का सिद्धांत अपनायें ।।

आओ सब मिल कर आज ,स्वन्तत्रता दिवस मनायें ।

XXXXX

8 टिप्‍पणियां:

  1. अमीन ... यह शुभ संदेश जन जन तक पहुँचे और सही अर्थ में बम आज़ादी मनाएँ ...
    स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई ...

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. स्वन्तत्रता दिवस की हार्दिक बधाई नासवा जी , बहुत अच्छा लगा आपकी सराहनीय प्रतिक्रिया देख कर....., लिखना सफल हुआ :-)

      हटाएं
  2. उम्दा रचना ।
    देश भगति के साथ साथ नागरिक कर्तव्य की महक है इस रचना में।

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. स्वन्तत्रता दिवस की हार्दिक बधाई रोहिताश्व जी , बहुत दिनों के बाद बाद आपकी प्रतिक्रिया देख अतीव प्रसन्नता हुई । रचना सराहना के लिए बहुत बहुत धन्यवाद ।

      हटाएं
  3. शहीदों को याद करें ,
    मान से शीश झुकायें ।।
    बंधाई इस खूबसूरत ख्याल के लिए

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपको भाव रुचिकर लगे लेखन सफल हुआ ,अति आभार सराहनीय प्रतिक्रिया के लिए :-)

      हटाएं
  4. व्यक्तिगत को भूल कर ,
    समष्टिगत को जीवन सार बनायें ।.... वाह! भारतीय दर्शन में अपराधीनता की अवधारणा!!! बधाई !!!

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. हौसला अफजाई करती प्रतिक्रिया के लिए हृदयतल से आभार विश्व मोहन जी ।

      हटाएं


“मेरी लेखन यात्रा में सहयात्री होने के लिए आपका हार्दिक आभार…. , आपकी प्रतिक्रिया‎ (Comment ) मेरे लिए अमूल्य हैं ।”

- "मीना भारद्वाज"