Followers

Copyright

Copyright © 2019 "मंथन"(https://shubhrvastravita.blogspot.in/) .All rights reserved.

मंगलवार, 26 मार्च 2019

"ईश प्रार्थना "

मन
बैरागी
भटके क्यों
पगलाया सा
ईश्वर का वास
तेरे अन्तर्मन में

हे
जग
पालक
सर्वव्यापी
निर्गुण ब्रह्म
वन्दन अर्चन
सृष्टि सृजन कर्ता

xxxxx

14 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुंदर हाइकु ईश्वर पर मीना जी।
    अनुपम ।

    जवाब देंहटाएं
  2. वाहह्हह...बढ़िया ईश्वर वंदना सराहनीय वर्ण पिरामिड मीना जी👌👌👌

    जवाब देंहटाएं
  3. बहुत ही सुन्दर वर्ण पिरामिड...
    वाह!!!

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. हौसला अफजाई के लिए हृदयी आभार सुधा जी ।

      हटाएं


“मेरी लेखन यात्रा में सहयात्री होने के लिए आपका हार्दिक आभार…. , आपकी प्रतिक्रिया‎ (Comment ) मेरे लिए अमूल्य हैं ।”

- "मीना भारद्वाज"